कांग्रेस ने प्रीत विहार में महिलाओं को बाँटे सेनेट्री नेपकिन, वाहनों को किया सेनिटाईज


नई दिल्ली ! लॉकडाउन के पहले दिन से दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनिल चौधरी के नेतृत्व में दीनहीन, निर्धन, बेसहारों को कांग्रेस की  रसोई द्वारा भरपेट भोजन देने की व्यवस्था की गई है, इस कड़ी में मैं आपको प्रीत विहार लेकर चलता हूं जहां पूर्व निगम पार्षद एवं कृष्णा नगर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गुरचरन  सिंह राजू द्वारा लगातार लंगर का आयोजन किया जा रहा है, इस लंगर की खासियत यह देखने को मिली कि प्रतिदिन नए-नए साफ-सुथरे स्वादिष्ट व्यंजन लेकर गुरचरन सिंह राजू लेकर आते हैं जहां जरूरतमंद लोगों को भोजन सामग्री वितरित करते हैं, यहां जो खास बात नजर में आई वह थी जरूरतमंदो द्वारा अनुशासित रूप से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पंक्तिबद्ध होकर भोजन ग्रहण करना, कहते हैं जहां अनुशासन रहता है वहां लोग खुद अनुशासित हो जाते हैं, यह प्रीत विहार में देखने को मिला जहां राजू जी खुद अनुशासन में विश्वास करते हैं जिससे प्रभावित होकर सभी लोग उनका अनुसरण करते हुए अनुशासित रूप से खाना लेते नजर आए।  आज इस अवसर पर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री अनिल चौधरी जी इस लंगर में उपस्थित थे जिन्होंने अपने हाथों से राजू जी के साथ मिलकर सभी को खाना के रूप में चावल, रोटी, दाल, कड़ी, अचार और मीठे शरबत का वितरण किया,  दिल्ली प्रदेश काँग्रेस के सैनिटाइजेशन महाअभियान के तहत जब सैनिटाइजर की गाड़ी प्रीत विहार आई तो चौधरी अनिल सिंह और राजू ने खुद मोर्चा संभालते हुए अपने हाथों से सेनिटाइजर का कार्य करना शुरू कर दिया, उनकी इस प्रकार की सेवा भावना देखकर लोग अचंभित और भावुक नजर आए, गुरचरन सिंह राजू की तरफ से जहां एक तरफ भंडारे द्वारा भूखों को खाना खिलाने का सिलसिला जारी है वही दूसरी तरफ पूरे कृष्णा नगर जिला में सैनिटाइजर की गाड़ी प्रतिदिन घर घर जाकर सैनिटाइजर का काम कर रही है, यह सभी कार्य गुरचरन सिंह राजू के सौजन्य से दिन रात चल रहा है। अनिल चौधरी ने कहा कि राजू जी द्वारा इस तरह का भव्य साफ सुथरा और स्वादिष्ट लंगर को देखकर वह बहुत प्रभावित हैं।  राजू ने कहा के जनता की सेवा करने का जज्बा उन्हें बचपन से ही विरासत के रूप में अपने पिता स्वर्गीय सरुप सिंह से मिली थी जो एक प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी के साथ-साथ एक महान समाज सेवक थे । उन्होंने कहा यह लंगर तब तक जारी रहेगा जब तक जन जीवन सामान्य नहीं हो जाता।