Posts

Showing posts from September, 2020

भारत को बुलंदीयो पर पहुँचाया विश्व प्रसिद्ध अर्थशास्त्री डॉ० मनमोहन सिंह ने 

Image
आज भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्रृद्धेय मनमोहन सिंह जी का 86 वां जन्मदिन है।। वर्तमान राजनीतिक दौर में श्री मन मोहन सिंह साहब के व्यक्तितव और कृतित्व का कोई सानी नहीं है।। विश्व विख्यात अर्थशास्त्री के रूप में श्री सिंह ने संपूर्ण भारत को नई बुलंदिया अता की हैं।। आपकी शालीनता, सुसंस्कृति और प्रतिबद्धता हम सभी के लिए प्रेरणास्रोत है।। हम गौरवान्वित हैं कि आप हमारे चहेते प्रधानमंत्री रहे।। ईश्वर आपको दीर्घायु होने के साथ सदैव स्वस्थ रहने का आशीर्वाद प्रदान करे हमारी यही दुआ है।। आपका जीवन संपूर्ण देश के युवाओं के लिए संदेश है।। आपका संक्षिप्त परिचय-- भारत के चौदहवें प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह विचारक और विद्वान के रूप में प्रसिद्ध है। वह अपनी नम्रता, कर्मठता और कार्य के प्रति प्रतिबद्धता के लिए जाने जाते हैं। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का जन्म 26 सितम्बर 1932 को अविभाजित भारत के पंजाब प्रान्त के एक गाँव में हुआ था। डॉ. सिंह ने वर्ष 1948 में पंजाब विश्वविद्यालय से मेट्रिक की शिक्षा पूरी की। उसके बाद उन्होंने अपनी आगे की शिक्षा ब्रिटेन के कैंब्रिज विश्वविद्यालय से प्राप्त की। 1957 में उन्

दिल्ली सरकार बताएं कि वह दिल्ली के किसानों को सब्सिडी की सुविधा क्यों नहीं देती है-रामवीर सिंह बिधूड़ी

Image
नई दिल्ली, 22 सितम्बर।  किसानों के हित में पास किए गए विधेयक कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक 2020 और कृषक (सशक्तिकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन एंव कृषि सेवा पर करार विधेयक 2020 पास किया गया है जिसे लेकर आम आदमी पार्टी और उनके नेता राजनीति कर रहे हैं। इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए आज दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री आदेश गुप्ता ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से और दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री रामवीर सिंह बिधूड़ी ने प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इस अवसर पर दिल्ली भाजपा किसान मोर्चा अध्यक्ष श्री मुकेश मान व प्रदेश मीडिया प्रमुख श्री अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे।   वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से श्री आदेश गुप्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार द्वारा पेश कृषि विधेयकों को संसद की मंजूरी मिल जाने से किसानों की आय दोगुनी होने का रास्ता साफ हो गया है। देश की आजादी के बाद यह पहली सरकार है जिसने किसानों के हक में यह ऐतिहासिक फैसला किया है। इतना ही नहीं, मोदी सरकार ने अपने छह साल के शासनकाल मे

दीपिका पादुकोण और श्रद्धा कपूर के व्हाट्सऐप चैट, जो उन्हें ड्रग एजेंसी की जांच के दायरे में ले आए

Image
एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण और श्रद्धा कपूर को 2017 के व्हाट्सऐप चैट के आधार पर पूछताछ के लिए बुलाया गया है. यह चैट टैलेंट एजेंट जया साहा के मोबाइल फोन पर मिला है. इसको लेकर सुशांत सिंह राजपूत  की मौत से जुड़े ड्रग मामले  की जांच में सवाल उठाए गए हैं जया साहा  34 वर्षीय एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व टैलेंट मैनेजर थीं. सुशांत 14 जून को अपने मुंबई में स्थित अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे. सुशांत राजपूत की प्रेमिका रिया चक्रवर्ती के फोन से मिले व्हाट्सऐप मैसेज के बाद कई सवाल उठे हैं. उनकी बातचीत में ड्रग्स के लेनदेन की बातचीत का पता चला है. एनडीटीवी को मिले चैट ट्रांसक्रिप्शन में दो व्यक्तियों में हशीश  की खरीद के बारे में बातचीत हो रही है. वे दोनों कथित रूप से दीपिका पादुकोण और उनकी बिजनेस मैनेजर करिश्मा प्रकाश हैं. यह चैट, जो एक ग्रुप में है, 28 अक्टूबर 2017 को रात 10 बजे के आसपास का है. दीपिका पादुकोण : क....माल तुम्हारे पास है? करिश्मा : मेरे पास है पर घर पर.... मैं बांद्रा में हूं करिश्मा : यदि तुम चाहो तो मैं अमित से पूछूं दीपिका पादुकोण : हां दो अन्य प्रमुख एक्टर सारा अली खा

Can myopic Muslims see Congress in AAP?

Image
The political pot is simmering hot with numerous issues needing immediate addressing . Media with fixed blinkers is reporting in a biased format, apparently monitored by the party in office. There are several other issues far more important than Kangna Ranaut,Sushant Singh, Rhea but the scribes are camping religiously in tinsel town covering wall- to- wall events rather than even whispering of China's intrusion into Indian boundaries, GDP is crippling badly with no remedy in sight yet and above all the most politically fuelled pandemic COVID19, the political parties are desperately eying to cash in on.  The Muslims, though in bad faith, have found an alternative voting into power the Aam Aadmi Party by dumping the arrogantly power drunk Congress. The Delhiites evidently displayed an implicit faith in the AAP,  a tenderfoot  till yesterday, which seems to have picked the trade well. Despite, it has miserably failed on two different fronts: North East riots, that hit the gory headl

Gourmet chef strikes a musical chord

Image
Delhi' s walled city is all decked with eateries savouring the best of authentic mughlai cuisine From Karim to Al Jawahar to Jahangiri to Changezi and many more stalls in the labyrinths selling their speciality like hot cakes. Here comes another name Hafeez Ahmed, an eighth generation pucca Dilliwalla, a tabla player by profession has got into the line of culinary craft.  He comes from a  background of a gharna where his forefathers carried music as a living. Hafeez's Khansaama specialises in mughlai foods ranging from mutton Nihari and mutton briyani to stew and the like. The chef with a unique and century old recipe has a band of experienced cooks perfect  at making mughlai dishes is serving the city. The Khansaama all set to bring back the authentic flavours of the mughals has made a name in outdoor catering for weddings and events. The eatery has some traditional cooks like Kallan,Ghaama, Shareef etcetera who have come from a typical bawarchi background. Wedding events ar

Madhu Vihar, East Delhi Man shot dead in broad daylight, teams constituted, no breakthrough yet

Image
A sensational murder in east Delhi's Hasanpur traffic signal near Madhu Vihar sent shockwave across the city.Three men came on bikes and opened fire on the man inside the car from either side. Dozens of bullets were fired. The deceased sustained multiple gunshots and was rushed to Max hospital, Patparganj, where he was declared dead. As soon as the news flashed the police swung into action and reached the spot. Senior police officials also rushed to the crime scene. The police ruled out robbery the motive behind the killing. The police zero in on several angles including enimity. The assailants are believed to have been chasing the deceased Yogesh 33 years of Dakshinpuri.  Several teams have been formed, hunt is on. It was learnt that three persons came on two bikes and fired bullets at Yogesh in the car he was driving. Yogesh with a shady past used to run a car washing workshop in Dakshinpuri. He was involved in a murder case in 2011 of Ambedkar Nagar police station.  The case h

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को अर्पित किए श्रद्धा के सुमन

Image
नई दिल्ली ! स्वर्गीय पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की स्मृति में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन ग्रेटर कैलाश कॉलोनी में किया गया ! इस अवसर पर इनकी पुत्री व कांग्रेस की सीनियर लीडर शमिष्ठा मुखर्जी सहित परिवार के सभी सदस्य मौजूद रहे ! दिवंगत आत्मा को कांग्रेस के बहुत से नेता श्रद्धा के सुमन अर्पित करने पहुंचे ! चित्र में कांग्रेस नेता मुदित अग्रवाल, प्रेम चौधरी व प्रवीण खनगवाल ने भी प्रणव जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी !

कांग्रेस शासन में होता है सभी समुदाय उत्यान : सुनील कुमार

Image
नई दिल्ली | दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी एससी विभाग के चेयरमैन सुनील कुमार की अध्यक्षता में जिले स्तर की एक मीटिंग का आयोजन खान मार्केट में किया गया | जिसने सभी ज़िलों के अध्यक्ष व पदाधिकारियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई | इस बैठक में कांग्रेस संगठन को मजबूत करने पर बल दिया गया ! जिला अध्यक्षों को संबोधित करते हुए चेयरमैन सुनील कुमार ने कहा कि कांग्रेस की एक मात्र ऐसा राजनीतिक संगठन है जिसमें सभी धर्म,जाति,वर्ग,समुदाय के लोगो को समान अधिकार प्राप्त हैं ! उन्होंने कहा कि वर्तमान आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार व केंद्र की भाजपा सरकार दोनों दलित व पिछड़ों का शोषण व अधिकारों का हनन कर रही हैं ! उन्होंने कहा कांग्रेस दलित पिछड़े व अति पिछड़ों की हमेशा सहयोगी है और कांग्रेस के शासनकाल में सभी समुदायों का उत्थान होता है इसलिए आज कांग्रेस की सत्ता में वापसी जरूरी है !आगामी निगम चुनाव के लिए हमें अभी से प्रयास करने होंगे और कांग्रेस की मजबूती के लिए जमीनी वर्क करना होगा ! इस अवसर पर स्टेट कोऑर्डिनेटर व प्रभारी नई दिल्ली ज़िला प्रेम चौधरी,राजेश धनक,राजेश बागड़ी,आशीष,संजय,नीरज,भाई नरेंद्र, भारत

Hundreds and thousands mourn rivers as Sarkar bids adieu to world

Image
An unending sea of followers emerged to bid tearful farewell to Peer Shah Hasni Mian Niyazi popularly known as Sarkar among his devotees who departed from this temporary sojourn bidding adieu at the age of 70. He had been ailing for quite sometime.  No sooner did the news of his passing away (visaal) flash by than the sea of emotions raged, people began to throng around the Khanqai Niyazia, Bareilly Sharif from all sides. There was nothing but colossal commotion of cries, silent-loud sobs,some whispering and choked prayers and the struggle to take a brief glimpse of Sarkar being brought to the resting place among his great predecessors. The saint of the sufi order from Khanqai Niyazia sajjada nasheen Hazrat Shah Mohammad Hasnain famed as Hasni Mian departed from the world leaving millions of followers both abroad and back home distraught; shell- shocked to react, couldn't believe something really unbelievable. Many of his overseas devotees kept calling late frantically ever since

कानपुर के सत्यग्रही 'गांधी' यानि वीररस कवि व समाजसेवक संजीबा के संघर्ष पूर्ण 24 वर्ष पूर्ण

Image
कवि ,  गायक ,  संगीतकार , सामाजिक   कार्यकर्त्ता   व   गरीबों   की   आवाज़   संजीबा   के   समाजसेवा   के 24   वर्ष   पूरे   हुए कानपुर।   आज   से 24   वर्षों   पहले   आज   के   सत्यग्रही  ' गांधी '  यानि   वीररस   कवि   व   समाजसेवक   संजीबा   के   घर   के   एक   कमरे   में   एक   किरायेदार   के   बेटे   ने आत्महत्या   कर   ली   थी , अपने   सुसाइड   नोट   में   उसने   लिखा   कि   मैं   भारत   की   आर्थिक   नीतियों   के   खिलाफ   आत्महत्या   कर   रहा   हूँ।   इस   घटना   ने   उनके   जीवन   को   एक   नई   दिशा   दे   दिया ,. बस   उसके बाद   समाज   की   व्यवस्था   बदलने   के   लिए   कानपुर   की   सड़कों   पर   पहले   क्रांतिकारी   कविताओं   की   पर्चियां   बाँटने   लगे   और   फिर   सड़कों   पर   नुक्कड़   नाटक   खेलने   लगे ,  जिसके   लिए   नुक्कड़   नाटक खेलने   के   दौरान   दर्जनों   बार   इन्हे   जेल   हथकड़ी , हवालात   से   गुजरना   पड़ा।   लेकिन   उसके   बाद   भी   वे   रुके   नहीं ,  नाटक   के   माध्यम   से   गरीबों   की   आवाज़   उठाने   लगे , . सड़को   पर   अपनी   कविता   चि

Melorra launches a unique campaign #LookAtYouLookingOut ahead of Daughter’s Day

Image
Bangalore, September 9, 2020:  Melorra , India’s fastest growing lightweight fine jewellery brand designing affordable and trendy jewellery for everyday wear, has launched a campaign marking Daughter’s Day. The campaign #LookAtYouLookingOut that is live across all of Melorra’s social media platforms, is a special way of thanking daughters for being the shining light in the dark times that the world is facing in the form of a pandemic. Daughters have been a force to reckon with and a rock for many families in these tough times. From teaching their parents new hacks and things like how to sign up for online classes or just simply watching out for them by doing things around the house, the campaign highlights how special daughters are. The brand has lined up an array of quirky contests and videos, among other things, ahead of Daughter’s Day. Speaking about this,  Sharat Krishnan, Head of Marketing, Melorra , said, “Daughters have a special place in our lives and with the little things

तेरी हमदर्दी के चन्द अल्फ़ाज़ मरहम हो गए

Image
संविधान को लागू करने और उसकी व्याख्या करने के लिये डिश्जुयरी (न्यायतंत्र) जम्हूरियत (लोकतंत्र) की जान है, जो अपने इख़्तियारात में ख़ुद-मुख़्तार (स्वायत्त) है।जुडिश्यरी की बुनियादी ज़िम्मेदारी है कि वह हर नागरिक के बुनियादी इन्सानी हक़ों को प्रोटेक्शन दिलाए और संविधान और क़ानून का ग़लत इस्तेमाल रोकने में अपने अधिकारों का इस्तेमाल करे। जुडिश्यरी स्टेट के तमाम इदारों (संस्थाएं) को तय सीमाओं के अन्दर रहकर काम करने का पाबन्द बनाती है। अगर कोई इदारा अपनी संवैधानिक सीमाओं को फलाँगने की कोशिश करे तो जुडिश्यरी उससे पूछगच्छ करने की पाबन्द है। भारत का जुडिश्यरी सिस्टम एक मिसाली सिस्टम रहा है। यहाँ यह दुशवारी तो है कि फ़ैसले के लिये लम्बा इन्तिज़ार करना पड़ता है और कभी-कभी फ़ैसले के इन्तिज़ार में वादी और प्रतिवादी दोनों परलोक सिधार जाते हैं। अब से पहले अदालतें भावनाओं और आस्था से ऊपर थीं, अदालतों में क़ानून और संविधान का सम्मान था, सरकारी दबाव में फ़ैसले टल तो सकते थे मगर संविधान के ख़िलाफ़ नहीं हो सकते थे। मगर पिछले पाँच-छः बरसों में अदालती सिस्टम भी केसरी वायरस से प्रभावित हो रहा है। देश की सुप्रीम कोर्ट से एक

12 साल की बच्ची ने प्रधानमंत्री को लिखा खुला खत, कहा- वायु प्रदूषण का बच्चों पर हो रहा बहुत बुरा असर

Image
नई दिल्ली, 7 सितंबर 2020: बच्चों के प्रदूषित हवा में सांस लेने से उनके स्वास्थ्य पर हो रहे गंभीर प्रभाव से चिंतित 12 साल की वैश्विक जलवायु कार्यकर्ता रिद्धिमा पांडे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खुला खत लिखा है। रिद्धिमा ने भारत के सभी बच्चों की तरफ से यह खत लिखकर प्रधानमंत्री से बढ़ते वायु प्रदूषण के खिलाफ तत्काल कदम उठाने की मांग की है। वायु प्रदूषण के उच्च स्तर से जूझ रहे दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और घने आबादी वाले शहरों में रहने वाले लोगों की दुर्दशा को उजागर करते हुए रिद्धिमा ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि वे सभी नियमों और कानूनों को सख्ती से लागू करने का आदेश दें। इससे हर भारतीय खासकर के बच्चों के स्वास्थ्य पर मंडरा रहे खतरे से उनकी रक्षा हो सकेगी। सात सितंबर को नीले आसमान के लिए पहले अंतरराष्ट्रीय स्वच्छ वायु दिवस के मौके पर रिद्धिमा ने प्रधानमंत्री को लिखे खुले खत की एक कॉपी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की है। प्रधानमंत्री के साथ एक किस्सा साझा करते हुए रिद्धिमा ने कहा कि एक बार स्कूल में उनके शिक्षक ने सभी छात्रों से उनके बुरे सपने के बारे में पूछा। उन्होंने खत में

Dargah Hzt. Nizamuddin Auliya opens to devotees today after months' hiatus

Image
The 14th Century shrine of sufi saint Hazrat Nizamuddin has reopened today after months' nationwide lockdown. The dargah committee has strictly and categorically instructed to follow the protocol of social distancing and wearing masks. Both the entrance gates are well equipped with proper facilities of sanitization.  "It is to ensure that everyone entering the holy precinct of the dargah must wear their masks and maintain social distancing norms. We have volunteers keeping tabs on devotees and pilgrims lest they violate guidelines." Peerzada, descendent of the sufi lineage Syed Altamash Nizami, spoke. There are blocks prominently marked must be followed by those coming to the mausoleum .  One important thing is that no luggage whether it be a handbag, briefcase etcetera is allowed inside the premises. Proper arrangements have been observed by the Dargah Committee to facilitate the entry and exit of the devotees. "We will monitor the crowd and not allow anyone to st