मानव जागरूकता ने किया करोना योद्धाओं को सम्मानित

 



नई दिल्ली। मानव जागरूकता विकास समिति द्वारा दिवाली ऐसे मनाएं शीर्षक के अंतर्गत दिवाली मिलन कार्यक्रम का आयोजन प्रीत विहार स्थित सौभाग्य बैंकट मे किया गया ! समिति के अध्यक्ष डॉ मुश्ताक़ अंसारी की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में करोना योद्धा अवॉर्ड भी वितरित किए गए,जहां पूर्वी जिला एडिशनल डी सी पी मनजीत शोरेन मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे। इसके अलावा दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग दिल्ली सरकार के चेयरमैन जाकिर खान,टी वी सेलीब्रिटी आचार्य विक्रमादित्य, विधायक सुरेश कुमार बग्गा, जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष गुरुचरन सिंह राजू, पूर्व विधायक नितिन त्यागी आदि गणमान्य व्यक्ति विशेष अतिथि के रूप में मौजूद रहे । मंच का संचालन समिति के महासचिव हरीश गोला एडवोकेट व एकता मलिक द्वारा किया गया ! समिति के उपाध्यक्ष लॉयन गुलफाम व विनोद शर्मा द्वारा अतिथियों का स्वागत किया गया। विवेक उपाध्याय, गीतिका कश्यप, अभिषेक खंडेलवाल व सुशमी सिंह आदि गायकों की परफॉर्मेंस ने इस शाम को और भी अधिक यादगार बना दिया । इंटरनेशनल मशहूर शायरा अना देहलवी की शायरी का भी दर्शकों ने खूब लुफ्त लिया । इस मौके पर अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त पूर्वी दिल्ली जि़ला मनजीत शोरेन ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि करोना महामारी निरंतर बढ़ रही है इसलिए अधिक सचेत रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा यह बीमारी कितनी गम्भीर है इसका अंदाजा करोना रोगी के परिवार वाले ही लगा सकते हैं बाकी अधिकांश लोग लापरवाही बरत रहे हैं। श्री शोरेन ने कहा कि दीपावली के मौके पर बाजारों में जो भीड़ है उससे बचने की जरूरत है, ज्यादा जरूरत पर ही घर से निकलें। उन्होंने कहा हमने करोना महामारी के रोगियों को तड़पते हुए बड़े नजदीक से देखा है उनके परिजनों को परेशान होते देखा है इसलिए हम चाहते हैं कि आप सब सुरक्षित रहें और यह तभी सम्भव है जब आप सोशल डिस्टेसिंग रखेंगे। 
दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन जाकिर खान ने कहा कि हरियाणा में जलाई जा रही पराली के कारण दिल्ली में प्रदूषण बहुत ज्यादा हो गया है, इसलिए सरकार ने पटाखों पर भी पाबंदी लगा दी है। इसलिए में भी आपसे अपील करता हूं कि दिवाली पर पटाखे न चलाएं और आपसी सौहार्द को बढ़ाएं। कुछ स्वार्थी संगठन जो समाज को तोड़ने व नप़फ़रत फैलाने का काम कर रहे हैं उन्हें नाकाम बनाएं। गरीब व असहायों की मदद करें और दिलों में मौहब्बत के दिये जलाएं। 
आचार्य विक्रमादित्य ने कहा कि जिंदा रहेंगे तो दीवाली भी मनाएंगे इसलिए करोना को बढ़ने से रोकने में अपनी भागीदारी रखें। दिल्ली में सबसे अधिक रोगी करोना के पाए जा रहे हैं इसलिए जब तक दवाई नहीं तब तक कोई ढिलाई नहीं। विधायक एस-के- बग्गा ने कहा कि जो लोग समाज सेवा के कार्य करते हैं उनका सम्मान इसलिए भी जरूरी है ताकि अन्य लोग भी प्रेरित होकर समाज सुधार में अपनी भागीदारी रखें। उन्होंने कहा जिन करोना यौद्धाओं को आज सम्मानित किया गया है उन्होंने लॉकडाउन के मध्य व उसके बाद भी जरूरतमंदों की मदद की है जो कि बेहद सराहनीय है। 
गुरचरन सिंह राजू ने कहा कि करोना महामारी के कारण लॉकडाउन के दौरान व उसके बाद भी समाज में सौहार्द की कमी देखने को मिली है, कुछ लोगों ने समाज को बांटने का कार्य किया है लेकिन डॉ- अंसारी जैसे लोगों के कारण आज भी समाज में सभ्य लोगों की संख्या अधिक है जो हमेशा समाज को जोड़ने का कार्य करते हैं। इस मौके पर हाजी कमरुद्दीन सिद्दीकी (सर्वोकांन) , मो्० इकराम एडवोकेट, मो्० इलियास, डॉ० कंवर सेन शर्मा, सलीम अंसारी, रचना सचदेवा, मारूफ रजा, अनुज आत्रे, निकिता चतुर्वेदी, नसीब नबी, अलीम अंसारी,जुगल किशोर, शकील अंसारी, पवन मैनी, विजय गिलोत्रा, डॉक्टर अंजारुल हक, डॉक्टर कमरुल हक ,महबूब कुरेशी , अकमल सिद्दीकी, नौशाद बेगम, करण सिंह मेहरा ,रंजना गुप्ता, ललित गर्ग, अरविंद वत्स आदि गणमान्य व्यक्ति भी विशेष रूप से उपस्थित रहे।