कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री स्व० शीला दीक्षित को 83 वें जन्मदिवस पर दी श्रधांजलि

 







शीला दीक्षित के कार्यकाल में हुआ  दिल्ली का चहमुखी विकास : चौ० अनिल

नई दिल्ली, 31 मार्च ! भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के साथ दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री  शीला दीक्षित की 83 वीं जन्म जंयती पर ईस्ट निजामुद्दीन स्थित उनके निवास स्थान पर उन्हें पुष्पाजंलि अर्पित की। इस मौके पर शीला दीक्षित के पुत्र पूर्व सांसद संदीप दीक्षित, पुत्री लतिका दीक्षित, दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्रियों सहित, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक, निगम पार्षद, पूर्व निगम पार्षद, जिला एवं ब्लाक अध्यक्षों सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं सहित उनके चाहने वाले भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली के लोगों को पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का आभार प्रकट करना चाहिए क्योंकि उनके 15 वर्षों में शासन काल में दिल्ली में अभूतपूर्व विकास कार्य हुए जिसके बाद राजधानी दिल्ली विश्वस्तरीय शहरों की श्रेणी में शुमार हुई।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि शीला दीक्षित सरकार गरीबों की हमदर्द थी, उनके कार्यकाल में कई कल्याणकारी योजना गरीबों के लिए बनाई और पानी बिजली को सुचारु रुप से मुहैया कराया गया।  दिल्ली को मेट्रो दी, परिवहन व्यवस्था को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए डीटीसी बसों को सीएनजी रहित बनाया, फ्लाई ओवर का जाल बिछाया, अस्पताल और स्कूल बनाए। उन्हांने कहा कि शीला दीक्षित ने महिलाओं के कल्याण, बालिकाओं, वृद्धों, दिव्यांगों और गरीबी रेखा से निचले वर्ग के कल्याण के लिए कल्याणकारी योजनाओं के लिए निर्णय लेने की प्रक्रिया के लिए रेजीडेन्ट वेल्फेयर एसोसिएशन से विचार विर्मश करके सबके लिए निर्णय लिए गए।

चौ0 अनिल कुमार ने आगे कहा कि शीला जी ने जे.जे. कलस्टर्स, अनाधिकृत कॉलोनियों, पुनर्वासित कालोनियों सहित राजधानी के पिछड़े क्षेत्रों तक सभी नागरिक सुविधाऐं प्रदान करने के लिए काम किया, जहां आम तौर पर विकास कार्य पहुचना कठिन था।  उन्होंने कहा आज के दिल्ली की बिगड़ती स्थिति को देखकर दुख होता है जिसे शीला दीक्षित सरकार ने योजनाबद्ध तरीके से विकसित करके राजधानी को विश्वस्तरीय महानगर बनाने का काम किया था। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार अतिरिक्त बजट होने के कारण लोगों को मुफ्त सुविधाएं इसलिए दे रही है क्योकि कांग्रेस की शीला दीक्षित सरकार ने दिल्ली में विकास के सम्पूर्ण कार्य किए। केजरीवाल सरकार के पास विकास कार्य करने के लिए ज्यादा कुछ नही है। जे.जे. कलस्टर्स को वहीं बसाने के लिए इन-सेतू योजना के तहत फ्लैटों के निर्माण का कार्य भी शीला सरकार के कार्यकाल में हुआ था जिसे आम आदमी पार्टी ने सत्ता में आने के बाद रोक दिया।