भाई मेहरबान ने दिया आपसी सौहार्द पर बल


 
इक़बाल कुरैशी के गेट-टू-गेदर में शामिल हुए कुरैशी बिरादरी के दिग्गज़

कोरोना महामारी के चलते सामाजिक व पारिवारिक रिश्तों में काफी दूरियां देखने को मिल रही हैं, सामाजिक, धार्मिक व शादी समारोह आदि में सरकार द्वारा क्राउड पर लगाई गई पाबंदी का असर रोजमर्रा के जीवन पर भी साफ दिखाई पड़ रहा है। लोगों का आपस में मिलना जुलना काफी कम हो गया है। इसी सामाजिक दूरी को कम करने की सोच के मद्देनजर पूर्वी दिल्ली प्रिर्यदर्शनी विहार निवासी मौहम्मद इकबाल कुरैशी ने एक गेट-टू-गेदर का आयोजन अपने निवास पर किया। जिसमें कुरैशी बिरादरी के प्रमुख लोगों को आमंत्रित किया गया। 
इस मौके पर हाजी सज्जाद कुरैशी, भाई मेहरबान कुरैशी, (अध्यक्ष, भाई चारा समिति सदर दिल्ली, उपाध्यक्ष ऑल इंडिया जमियत उल कुरैश), हाजी निजाम कुरैशी (अध्यक्ष, गाजीपुर मुर्गा मंडी, दिल्ली), हाजी शल्लू कुरैशी, हाजी शादाब कुरैशी, फेस ग्रुप के चेयरमैन, डॉ० मुश्ताक अंसारी, हाजी नासिर, फैसल मेहरबान कुरैशी आदि का पगड़ी व फूलों द्वारा विशेष सम्मान भी किया गया। 
इस अवसर पर भाई मेहरबान ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि इस तरह की दावतों से आपसी सौहार्द को बल मिलता हे और बिरादरी की विभिन्न समस्याओं का समाधान भी सरलता से हो जाता है। उन्होंने कहा कोरोना काल में लोग कारोबारी परेशानी के कारण कई तरह की मुसीबतें झेल रहे हैं ऐसी स्थिति में लोगों को चाहिए कि एक दूसरे की मदद करें। भाई मेहरबान ने यह भी कहा कि देश के कुछ शरारती तत्व हिन्दू-मुस्लिम एकता को नुकसान पहुंचाने की फिराक में रहते हैं हमें ऐसे लोगों से सचेत रहने की जरूरत है। इस मौके पर हाजी इस्लामुद्दीन कुरैाशी, हाजी नयाब, मौ० अमेज़, मौ० शॉवेज, हाजी सोनू कुरैशी, आदि भी मौजूद रहे। 
इस दावत की एक विशेषता यह भी रही कि दस्तरख़्वान पर देशी वैरायटी के साथ विदेशी फल भी मौजूद थे। ड्राई फ्रूट, विदेशी फ्रूट व सोफ्रट ड्रिंक, फिश, चिकन, मटन, विभिन्न प्रकार की मिठाई और भी बहुत कुछ परोसा गया। दिल से मेहमान नवाजी की गई इसमें कोई दो राय नहीं क्येांकि मौ०  इकबाल कुरैशी के साथ-साथ उनके दोनों पुत्र भी खुद मेहमानों की खिदमत करते नज़र आए। एक बहुत ही खूबसूरत माहौल यहां देखने को मिला।

Popular posts from this blog

Specially abled Sanjana Pherwani was crowned specialy for her dedication and confidence

शिक्षा के प्रति जागरूकता व समाज सुधार हेतु होंगे सेमिनार